क्यों जरुरी है प्राधिकरण व संपत्ति कर का विरोध: मयंक प्रकाश कोठारी

कोटद्वार। प्रदेश सरकार द्वारा नगर निगम क्षेत्र में लगाये गये सम्पत्ति कर व विकास प्राधिकरण को लेकर डू समथिंग सोसाइटी के अध्यक्ष मयंक प्रकाश कोठारी ‘भारतीय ‘ ने भी आगे आकर विरोध व्यक्त किया है, उन्होंने जनता से भी टैक्स के विरोध में आगे आकर आगामी 21 नवम्बर तक आपत्ति दर्ज करने की अपील की है।
डू समथिंग सोसाइटी के अध्यक्ष मयंक प्रकाश कोठारी ने कहा कि प्रदेश सरकार ने नगर निगम गठन के समय घोषणा की थी कि 10 साल तक किसी भी प्रकार का कर नहीं वसूला जायेगा किन्तु प्राधिकरण व संपत्ति कर दोनों ही आम जनमानस के लिए कोरोना महामारी के साथ डबल मार कर रही है। बिना किसी सुविधा के कर वसूलना नैतिकता के आधार पर भी सरासर गलत है। आम जनमानस को आपत्ति, नगर निगम दफ्तर में 21 नवंबर तक दर्ज़ करने के लिए समय मिला है, समयावधि को बढ़ाया जाना भी जरूरी है। उन्होंने कहा कि लोगो जल्द से जल्द आपत्ति दर्ज़ कराएं अन्यथा ये कर बहुत बड़ी पीड़ा बन जाएगा। तथा सरकार टैक्स लेना प्रारम्भ कर देगी।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी