तम्बाकू नियंत्रण दिवस पर की विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित

कोटद्वार। पब्लिक इण्टर कॉलेज सुरखेत में एनएसएस और रेडक्रॉस के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित राष्ट्रीय तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं ने निबंध और पोस्टरों के माध्यम से तम्बाकू उत्पादों का सेवन करने से होने वाले दुष्परिणामों को उजागर किया।
राष्ट्रीय तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम का शुभारम्भ बतौर मुख्य अतिथि राजकीय हाईस्कूल रिंगवाडी के प्रधानाचार्य तथा विद्यालय के प्रबंध संचालक देवेन्द्र सिंह बिष्ट तथा प्रधानाचार्य हीरा सिंह तोमर ने दीप प्रज्जवलित करके किया। छात्रों को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि देवेन्द्र सिंह बिष्ट ने कहा कि तम्बाकू का सेवन करने से स्वास्यि के साथ साथ आर्थिक और पर्यावरणीय नुकसान होता होता है। हमारे देश में तम्बाकू सेवन से प्रतिवर्ष नौ लाख लोगों की मृत्यु होती है जिसमें से 90 प्रतिशत मुंह के कैंसर से पीडित होते हैं। प्रधानाचाय्र हीरा सिंह तोमर ने बताया कि सर्वतनिक स्थानों पर धूम्रपान निषेध है जिसके लिए 200 रूपये तक का जुर्माना है। कार्यक्रम का संचालन करते हुए एनएसएस के कार्यक्रम तथा भारतीय रेडक्रॉस सोसाइटी के सदस्य पुष्कर सिंह नेगी ने कहा कि तम्बाकू नियंत्रण अधिनियम 2003 की धारा 6(ख) के अनुसार शैक्षिक संस्थाओं के सौ गज के दायरे में बीडी, सिगरेट व अन्य तम्बाकू उत्पादों की बिक्री पर प्रतिबंध है जिसका उल्लंघन करने पर दो सौ रूपये का जुर्माना होता है। इस अवसर पर तम्बाकू नियंत्रण पर आयोजित निबंधन और पोस्टर प्रतियोगिता के जूनियर वर्ग की निबंध प्रतियोगिता में तमन्ना प्रथम, यंत्रिका पाल द्वितीय, तनुष्का तृतीय, तथा पोस्टर में प्रियांशु प्रथम, सानिया द्वितीय और महक तृतीय स्थान पर रहे। सीनियर वर्ग की निबंध प्रतियोगिता में शुभम रावत, शिवानी मीत चौहान व पोस्टर में प्रफुल्ल राणा, प्रियंका व मोहनी ने क्रमश: प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त किये। सभी विजेता प्रतिभागियों को सीएमओ पौड़ी द्वारा सम्मानित किया जायेगा।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी