उत्तराखंड मेडिकल पब्लिक हेल्थ एसोसिएशन ने वेतन काटे जाने पर जतायी आपत्ति

उत्तराखंड मेडिकल पब्लिक हेल्थ एसोसिएशन ने वेतन काटे जाने पर जतायी आपत्ति
0 0
Read Time:2 Minute, 15 Second

देहरादून। उत्तराखंड मेडिकल पब्लिक हेल्थ एसोसिएशन ने कोरोना संक्रमण के दौर में अधिकारियों एवं कर्मचारियों के एक दिन के वेतन काटे जाने का घोर विरोध किया है, कहा कि प्रदेश सरकार को एक दिन का वेतन काटे जाने की बजाय उन्हें प्रोत्साहन राशि दी जानी चाहिए थी। एसोसिएशन के मंडल अध्यक्ष संजय नेगी ने प्रेस को जारी विज्ञप्ति में कहा कि वर्तमान में पूरे देश सहित राज्यो मं कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से कई लोगों की जाने चली गयी है, ऐसी विकट परिस्थिति में प्रदेश का हर अधिकारी एवं कर्मचारी अपनी जान की परवाह किये बगैर अपनी ड्यूटी निभा रहे है, लेकिन प्रदेश सरकार ने अधिकारियों एवं कर्मचारियों के एक दिन के वेतन कटोती के आदेश निर्गत कर दिये है। उन्होंने कहा कि अच्छा होता कि प्रदेश सरकार सांसदों व विधायकों के वेतन भत्तों में कटौती करने के आदेश निर्गत करती, उन्होंने कहा कि कोविड-19 के अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग में लगे हुए अल्प भोगी कार्मिक 7000 से लेकर 15000 तक की धनराशि में अपनी जान जोखिम में डालते हुए लगातार 24 घंटे कार्य कर रहे हैं। प्रदेश सरकार को चाहिए था कि इस कोरोना संकट के समय उन्हें कोरोना योद्धाओं को प्रोत्साहित करते हुए उन्हीं पदों पर स्थाई नियुक्ति प्रदान करती। लेकिन उल्टा कर्मचारियों के एक दिन का वेतन काटकर प्रदेश सरकार ने शर्मनाक काम किया है। उन्होंने एक दिन के वेतन कटोती के आदेश को तत्काल वापिस लेने की मांग की है।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Read also x