उत्तराखंड : विवाहिता की संदिग्ध मौत को परिजनों ने बताया हत्या, मुकदमा दर्ज़

उत्तराखंड के उधम सिंह नगर में लगातार हो रही नव विवाहिताओं की संदिग्ध मौतें प्रदेश सरकार के लिए एक गंभीर और सोचनीय विषय बना हुआ है। इसी बीच ताजा मामला किच्छा से सामने आया है जहाँ कोतवाली क्षेत्र गऊघाट कठर्रा में बीते दिनों संदिग्ध परिस्थितियों में एक युवती की मौत के मामले में परिजनों द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर किच्छा पुलिस ने ससुराल पक्ष के पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने मामले की अग्रिम कार्यवाही शुरू कर दी है।

आपको बता दें, बीते माह 30 सितंबर 2020 को ग्राम कठर्रा ,गऊघाट निवासी मोहम्मद आलिम की पत्नी फरीन की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। घटना की सूचना मिलते ही युवती के परिजन भी वहां पहुंच गए। वहीं, सूचना पर पहले ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्ज़े में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। परिजनों का कहना है कि, उन्होंने उनकी बेटी का निकाह इसी लॉकडाउन के दौरान करवाया था। लेकिन निकाह के कुछ दिन बाद से उनकी बेटी पर दहेज को लेकर ससुरालियों द्वारा दबाव बनाया जा रहा था।

परिजनों के मुताबिक, उनकी बेटी फरीन की मौत नहीं बल्कि एक हत्या है जिसे ससुराल पक्ष के लोगों के द्वारा अंजाम दिया गया है। परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने ससुराल पक्ष के तौफिक अहमद, नवी अहमद, मोहम्मद आलिम, जमील अहमद व नफीसा पत्नी के खिलाफ किच्छा कोतवाली मे मुकदमा पंजीकृत कर लिया है।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी