उत्तराखंड सरकार ने जारी की SOP, 15 अक्टूबर से मिलेंगी कई रियायतें, फैसला आज

उत्तराखंड : प्रदेश सरकार द्वारा अनलॉक-5 में जारी नए दिशा निर्देशों के तहत आज से कई छूटें मिलने जा रही हैं। शादी समारोहों और अन्य कार्यक्रमों में 200 लोगों के शामिल होने की छूट, अभी तक यह सीमा 100 लोगों की थी। सरकार ने अनलॉक-5 की SOP एक अक्टूबर को ही जारी की थी। जिसके तहत मिलने वाली रियायतें आज से लागूं की जा रही हैं।

आज से मिलेगी ये रियायत:

1- उच्च शिक्षा संस्थानों में विज्ञान व तकनीकी शिक्षा वर्ग के शोधार्थियों और स्नातकोत्तर विद्यार्थियों को प्रयोगशालाओं में जाने की अनुमति होगी।
2- प्रशिक्षण के लिए स्विमिंग पूल खोले जाने की मिली अनुमति।
3- 50 प्रतिशत सिटिंग व्यवस्था के साथ खुलेंगे सिनेमा घर।
4- एंटरटेनमेंट पार्क खुलने को मिली मंजूरी।
5- फिर से शुरू होगा निर्माता-थोक विक्रेता-खुदरा व्यापार, केवल कंटेनमेंट जोन छोड़कर बाकी जगह मिलेगी रियायत।

15 अक्तूबर के बाद:

1- प्रदेश में कोचिंग इंस्टीट्यूट को लेकर एसओपी में साफ कहा गया था कि, 15 के बाद ही इन्हें खोला जाएगा। इस पर अंतिम फैसला लेने का अधिकार जिलाधिकारियों के सुपर्द होगा।
2- जिलाधिकारी भी कोचिंग इंस्टीट्यूट संचालकों की राय के आधार पर फैसला लेंगे। यानी आज तय होगा कि इनको खोला            जाएगा या नहीं।
3-  समारोहों, धार्मिक आयोजनों, सांस्कृति एवं राजनीतिक कार्यक्रमों आदि में अधिकतम 200 लोगों को अनुमति दी जाएगी.
4- पार्क आदि में घूमने, सुबह की सैर के लिए 200 लोगों तक को दी जाएगी अनुमति.

अंतर्जनपदीय आवागमन :

राज्य में अंतर्जनपदीय आवागमन के लिए स्मार्ट सिटी की वेबसाइट पर पंजीकरण कराना होगा। किसी को भी क्वारंटीन नहीं होना होगा। कोविड पाए गए तो क्वारंटीन होना होगा।
राज्यों के बीच आवागमन: स्मार्ट सिटी की वेबसाइट पर पंजीकरण कराना होगा। जिला प्रशासन थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था करेगा।

1- उत्तराखंड आने वाले पर्यटकों को स्मार्ट सिटी की वेबसाइट पर पंजीकरण कराना होगा।
उत्तराखंड में होटल और होम स्टे में न्यूनतम अवधि के निवास का कोई प्रतिबंध नहीं होगा। होटल होम स्टे में चेक इन से पहले कोविड निगेटिव टेस्ट रिपोर्ट की जरूरत नहीं होगी।
2- परीक्षा आदि के लिए बाहर से आने वाले छात्र, अभिभावक व शिक्षक स्मार्ट सिटी की वेबसाइट पर पंजीकरण कराएंगे। उन्हें आरटीपीसीआर टेस्ट नहीं कराना होगा।
3- जिला प्रशासन सार्वजनिक परिवहन का संचालन कराएगा। यह सुनिश्चित करेगा कि छात्र, अभिभावक आदि को इसकी सुविधा मिल जाए।
4- 15 अक्टूबर से पार्क में जोगिंग या टहलने के लिए 100 से ज्यादा लोग जा सकेंगे, इसके लिए जिला प्रशासन की अनुमति जरूरी होगी।

 

 


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी