उत्तराखंड : चारधाम को लेकर देवस्थानम बोर्ड ले सकता है बड़ा फैसला

कोरोना काल के चलते देशभर में लाॅकडाउन लागू होने के बाद से उत्तराखंड चारधाम यात्रा अवरुद्ध थी। जिसके बाद चारधाम यात्रा को विगत जुलाई माह से प्रारम्भ किया गया था। कोरोना से सुरक्षा को लेकर यात्रा में आने वाले लोगों की संख्या निर्धारित की गई थी। लेकिन, अब देवस्थानम बोर्ड इस संख्या में बढ़ोतरी किये जाने पर विचार कर रहा है। अनलाॅक-5 के शुरू होने के साथ ही चारों धामों की यात्रा के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की संख्या में भी इज़ाफ़ा हुआ है।

यात्रा की तरफ यात्रियों का बढ़ता रुझान देखते हुए देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड अब निर्धारित संख्या को बढ़ाने की तैयारी कर रहा है। बोर्ड ने जिलाधिकारियों से चारधामों में मौजूद व्यवस्था पर रिपोर्ट मांगी है। बाहर से आने वाले यात्रियों को कोरोना निगेटिव जाँच रिपोर्ट साथ लाने और क्वारंटीन होने की बाध्यता की समाप्त होने पर यात्रा में आने वाले श्रद्धालुओं की तादाद ख़ासा बढ़ी है।

आपको बता दें, चारधाम यात्रा को लेकर अब तक देवस्थानम बोर्ड ने प्रतिदिन दर्शन हेतु आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या, बदरीनाथ के लिए 1200, केदारनाथ के लिए 800, गंगोत्री के लिए 600 और यमुनोत्री के लिए 450 तय की हुई है। वहीं, जबकि बदरीनाथ और केदारनाथ धाम में दर्शन के लिए यात्रियों की संख्या अधिक होती जा रही है। बीते शुक्रवार को ही बदरीनाथ के लिए 1113, केदारनाथ के लिए 2162, गंगोत्री के लिए 657, यमुनोत्री के लिए 469 लोगों द्वारा ऑनलाइन पंजीकरण किया गया है।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी