प्रदेश की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ आंदोलन करेगी सर्वजन स्वराज पार्टी

लोक संहिता प्रतिनिधि
कोटद्वार। सर्वजन स्वराज पार्टी द्वारा पत्रकार वार्ता का आयोजन किया गया। जिसमें निगम द्वारा लगाये गये टैक्स, जिला विकास प्राधिकरण व सरकार की गलत नीतियों का विरोध किया गया।
प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए पार्टी के अध्यक्ष डा0 देवेश्वर भटट ने कहा कि सर्वजन स्वराज पार्टी को ग्रास रूट तक संगठित करने के उददेश्य से वह उत्तराखण्ड राज्य आन्दोलनकारियों के संघर्ष व बलिदान से बना उत्तराखण्ड के भ्रमण अभियान पर कोटद्वार आये हुए है। उन्होंने घोषणा करते हुए कहा कि स्वराज पार्टी ने राज्य आन्दोलन्ांकारियों को सम्मान देते हुए राज्य आन्दोलनों व जन आन्दोलनों के पे्रणता व उत्तराखण्ड विचारक डॉ0 शक्ति शैल कपरवाण को पार्टी का परिवार जनसेवा में आगे बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि कोटद्वार नगर निगम क्षेत्र की जनता को सम्पत्ति कर से मुक्त किया जाए। पहले भी कोटद्वार भाबर के 73 गांवों को सरकार ने जनविरोध के बावजूद भी नगर निगम में सम्मिलित किया और अब विभिन्न टैक्सों को थोपकर जनता को कष्ट दिया जा रहा है। जबकि शीर्ष राज्य आन्दोलनकारी डॉ0 शक्ति शैल कपरवाण के नेत्रत्व में नगर निगम निर्माण के विरूद्घ दो वर्ष तक जन आन्दोलन हुआ। उन्होनें कहा कि जिला विकास प्राधिकरण ऐसी दैत्य काया है जो जनता का शोषण व जनता को प्रताड़ित कर रही है। जिला विकास प्राधिकरण उगाही और भ्रष्टाचार का अडडा बन गया है। इसलिए सर्वजन पार्टी राज्य सरकार से मांग करती है कि जिला विकास प्राधिकरण को सरकार समाप्त करें। अन्यथा पार्टी प्राधिकरण को समाप्त करने व जनता को राहत देने के उददेश्य से उत्तराखण्ड में आन्दोलन और आगामी विधानसभा सत्र के दौरान विधानसभा का घेराव करेगी।
पार्टी की नितियों पर बोलते हुए डॉ0 भटट ने कहा कि जल, जगंल, जमीन जनता के अधिकारों को बहाल करके ही रोजगार परक व राज्य की आय में वृद्घि करने वाली योजनाओं का निर्माण होगा। राज्य की प्रगति भ्रष्टाचार मुक्त उत्तराखण्ड राज्य बनाने से ही होगा। उन्होनें कहा कि पार्टी राष्ट्रीय पार्टियों से उत्तराखण्ड के राजकाज के 20 सालों का हिसाब लेगी। 20 साल में भी राज्य सरकारें उत्तराखण्ड की लाईफ लाइन, नेशनल हाईवे नैनीताल, रामनगर, चिल्लरखाल (कोटद्वार) लालढ़ाग, हरिद्वार, देहरादून निर्माण नहीं कर सकी, जबकि चुनाव के समय केन्द्रिय परिवहन व सड़क मंत्री नितिन गढ़करी ने इसे नेशनल हाईवे बनाने का आश्वासन दिया था। केन्द्र सरकार को अपना वादा पुरा करना चाहिए। जहां भरत का जन्म हुआ, जिनके नाम से हमारे देश का नाम भारत पड़ा वह कण्वाश्रम का विकास राष्ट्रीय पर्यटन स्थल के रूप में होना चाहिए।
डॉ0 भटट ने कहा कि पार्टी का मुख्य उददेश्य उत्तराखण्ड के पलायन को रोकने के लिए वहां पर रोजगार परख योजनाओं का निर्माण करना होगा। कोरोना काल में जो लोग प्रवास से उत्तराखण्ड वापस आये हुए हैं उन्हें रोजगार देकर उनके परिवारों को संरक्षित व विकसित करने के लिए पार्टी संघर्ष करेगी।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी