व्यावसायिक प्रतिष्ठानों एंव भूखंडों पर लगने वाले टैक्स का विरोध करें जनता- पूर्व मंत्री

कोटद्वार। प्रदेश के पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी ने महापौर श्रीमती हेमलता नेगी ने प्रदेश सरकार के द्वारा कोटद्वार भाबर में व्यावसायिक प्रतिष्ठानों एवं भूखंडों पर टैक्स लगाये जाने के फरमान के विरोध में ग्रास्टनगंज से लेकर सनेह तक नुक्कड़ सभाओं एवं रैलियों के माध्यम से जनजागरण अभियान चलाया गया। जगह-जगह आयोजित नुक्कड़ सभाओं के माध्यम से प्रदेश के पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी एवं महापौर श्रीमती हेमलता नेगी ने कहा कि वर्तमान में शहरीकरण की हिसाब से लोगों को सुविधा नहीं मिल पा रही है, लेकिन प्रदेश सरकार सुविधाओ के अभाव के बाद भी लोगों पर टैक्स थोपना चाहती है, कहा कि टैक्स के विरोध में आगामी 15 नवम्बर 2020 तक नगर निगम कार्यालय में व्यक्तिगत रूप से लिखित आपत्ति दर्ज करवायें, ताकि प्रदेश सरकार के टैक्स के फरमान को वापिस करवाये जा सके। पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी ने कहा कि विकास का झूठा वादा करने वाले प्रदेश के मंत्री अपना एवं अपने चेहते लोगों का विकास कर रहे है, उन्हें अपने क्षेत्र के विकास से कोई लेना देना नहीं है, जनता के सुख सुविधा का ध्यान रखने के बजाय जनविरोधी निर्णय लिये जा रहे है, जिससे जनता का भाजपा के सरकार से मोह भंग हो रहा है। कहा कि यदि प्रदेश सरकार ने विकास प्राधिकरण, एवं टैक्स जैसे निर्णय वापिस नहीं लिये तो आगामी 2022 में कांग्रेस के सत्ता में आते ही विकास प्राधिकरण सहित समस्त प्रकार के टैक्सों को समाप्त कर दिया जायेगा। इस मौके पर कार्यकारी अध्यक्ष महावीर सिंह रावत, पार्षद अनिल रावत, भोपाल सिंह अधिकारी, दान सिंह, सुनीता बिष्ट, कृष्णा बहुगुणा, शकुंतला चौहान, सुशीला देवी, विनीता भारती, प्रीति सिंह, शिवचरण सिंह रावत, प्रकाश लखेड़ा, भारत सिंह रावत, प्रेम सिंह रावत, शंकेश्वर प्रसाद सेमवाल, नरेन्द्र सिंह नेगी, नंदन सिंह रावत, कुशाल सिंह, हुकुम सिंह, नत्थू सिंह अधिकारी, किशन सिंह अधिकारी, विशन सिंह अधिकारी, सतेन्द्र नेगी, संजय सिंह रावत, हरेन्द्र पुंडीर, हेमचंद्र पंवार, हिमांशू बहुखंडी, विजय रावत, बलवीर सिंह रावत, बृजेन्द्र सिंह नेगी, पान सिंह रावत सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी