मलबा आने से एक सप्ताह से बंद लांघा मदर्सू मार्ग, हजारों की आबादी गांवों में कैद

मलबा आने से एक सप्ताह से बंद लांघा मदर्सू मार्ग, हजारों की आबादी गांवों में कैद
देहरादून, विकासनगर पिछले दिनों बारिश के दौरान मलबा आने से लांघा मदर्सू मार्ग एक सप्ताह से बंद है। इससे संबंधित हजारों की आबादी गांवों में कैद होकर रह गई है। जिसके चलते ग्रामीणों में लोनिवि के साथ प्रदेश सरकार के खिलाफ भी रोष बना हुआ है। उन्होंने जल्द मार्ग पर यातायात सुचारू कराने की मांग की है। गत सप्ताह हुई झमाझम बारिश के दौरान जाखन के समीप भारी मात्रा में मलबा आने से लांघा मदर्सू मार्ग पर यातायात ठप हो गया था। इससे ग्रामीणों का आवागमन पूरी तरह से ठप है। ग्रामीणों को जरूरी कामकाज के लिए कई-कई किमी की पैदल दूरी नापनी पड़ रही है। ग्रामीण जगदीश प्रसाद, संतोष सिंह, महेन्द्र सिंह, आनंद तोमर, विशाल, मोहित आदि ने लोनिवि के खिलाफ रोष प्रकट करते हुए बताया कि एक सप्ताह से मार्ग बंद है। इससे जाखन, मदर्सू, मटोगी, समेग, होनल, कांडवी आदि गांवों का संपर्क शहर से टूटा हुआ है। ग्रामीण गांवों में कैद होकर रह गये हैं। बताया कि एक तरफ लगातार बारिश से उनके जरूरी कामकाज प्रभावित हो रहे हैं। दूसरी ओर मार्ग बंद होने से उन्हें कई-कई किमी की पैदल दूरी तय करनी पड़ रही है। इतना ही नहीं, गांवों में किसी के बीमार होने पर ग्रामीणों के सामने उसे अस्पताल तक पहुंचना संकट से कम नहीं है। बताया कि इस संबंध में लगातार विभागीय अधिकारियों के साथ जन प्रतिनिधियों से शिकायत की जा रही है। बावजूद उनकी समस्या के प्रति गंभीरता नहीं दिखा रहा है। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि जल्द मार्ग नहीं खुला तो ग्रामीण आंदोलन को विवश होंगे। उधर, संपर्क करने पर लोनिवि प्रांतीय खंड के ईई राजेश कुमार ने बताया कि मौसम खराब होने और लगातार बारिश के कारण दिक्कत आ रही है। जल्द से जल्द मार्ग पर यातायात सुचारू कराने के प्रयास किए जा रहे हैं।

admin

Leave a Reply