कोटद्वार: बेस चिकित्सालय में शुरू हुआ ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट

कोटद्वार: बेस चिकित्सालय में शुरू हुआ ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट

कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए कोटद्वार में प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है। कोरोना मरीजों के उपचार में पर्याप्त ऑक्सीजन की व्यवस्था करने के लिए बेस अस्पताल कोटद्वार में एक और 500 एपीएम (लीटर प्रति मिनट) क्षमता का मेडिकल ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट स्थापित किया रहा है। प्लांट के भवन का निर्माण कार्य शुरू हो गया है और मशीनें बेस अस्पताल पहुंच गई हैं। कार्यदायी संस्था को 15 अगस्त तक प्लांट शुरू करने के निर्देश मिले हैं।
बेस अस्पताल कोटद्वार पौड़ी जिले की करीब 80 फीसदी आबादी को स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करता है, जिसके कारण अस्पताल को जिले का सबसे बड़ा कोरोना अस्पताल बनाया गया है। बेस अस्पताल में 100 बेड का कोरोना आइसोलेशन वार्ड और 16 बेड का आईसीयू बनाया गया है। केंद्र सरकार की ओर से गत 11 मई को कोटद्वार बेस अस्पताल में 300 एलपीएम क्षमता के ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना की जा चुकी है जबकि कोविड-19 की तीसरी लहर के दृष्टिगत अस्पताल प्रबंधन और स्थानीय प्रशासन ने अस्पताल में 500 एलपीएम क्षमता का एक और ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट स्थापित करने का कार्य शुरू कर दिया है। एसडीएम योगेश मेहरा ने बताया कि नया ऑक्सीजन प्लांट बंगलूरू की संस्था यूनाइटेड वे के माध्यम से लगाया जा रहा है। वहीं बेस अस्पताल के प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉ. बीसी काला का कहना है कि बेस अस्पताल में एक और ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट की स्थापना के लिए कार्य शुरू हो गया है। कार्यदायी संस्था को 15 अगस्त तक प्लांट शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं।

admin

Leave a Reply