कोटद्वार : केन्द्र सरकार के द्वारा पारित किसान बिल किसानों के हित में – विपिन कैंथोला

कोटद्वार : भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता बिपिन कैंथोला ने केन्द्र सरकार के द्वारा पारित किसान बिल को किसानों के हित में बताते हुए विपक्षी पार्टियों पर अर्नगल बयानबाजी एवं किसानो को गुमराह करने का आरोप लगाया। कोटद्वार में एक होटल में आयोजित पत्रकार वार्ता करते हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता विपिन कैंथोला ने कहा कि कृषक उत्पाद वयापार एवं वाणिज्य संवर्धन एवं सरलीकरण विधेयक संसद से पास होने से स्पष्ट है कि साफ नियत वाली मोदी सरकार के द्वारा देश के किसानों को ये  विधेयक कृषकों को अपनी कृषि उपज के विपणन की पूर्ण स्वतंत्रता कीमत के निर्धारण की स्वतंत्रता प्रदान करते हैं।
उन्होंने कहा कि किसानों को विपक्षियों के द्वारा फैलाए गए दुष्प्रचार से भयभीत एवं भ्रमित नही होना चाहिए जो लोग राजनीति महत्वाकांक्षाओं के लिए प्रधानमंत्री राहत कोष से पैसा स्वयं के लिए निकालें तथा चीन से भी पैसा ले लें,,ऐसे लोगों से कोई उम्मीद नहीं की जा सकती है, कृषि बिल में साफ यह स्पस्ट है कि  किसानों की जमीन की बिक्री लीज और गिरवी रखना पूरी तरह से निषिद्ध है। करार फसलों का होना है न कि जमीनों का, कृषक कीमत आश्वाशन व करार विधेयक 2020को व्यापारियों, कंपनीयों, प्रसंस्करण इकाईयों, निर्यातकों से सीधे जुड़ने का मार्ग प्रसस्त किया जाता है, बिचौलियों की व्यवस्था को लगभग समाप्त, कृषि फसल की कीमत के मामलों में बाजार की अनिश्चितता समाप्त होगी, किसान अपनी फसल बोने से पूर्व जो करार करेगा उसमें   निर्धारित मूल्य ही उसे फसल तैयार होने पर प्राप्त होगा,चाहे  बाजार भाव कम ही क्यों न हो, ऐसी सरकार की मंसा और नीयत है,किसान की इच्छा है कि वो चाहे तो अपनी फसल मंडी में बेचे या राज्य या राज्य के बाहर कहीं और बेचे।
कुल मिलाकर उपरोक्त विधेयक किसानों को कृषि कार्य करने में पूर्ण स्वतंत्रता प्रदान करते हैं और पहले की अपेक्षा कीमत निर्धारण करने की भी अधिक स्वतंत्रता प्रदान करते हैं, मोदी जी का मानना है कि इस देश का अन्नदाता हमारा किसान समृद्ध होना चाहिए उंन्होने कहा कि यह फैसला कृषि छेत्र के उदारीकरण का फैसला है , साथ ही सही मायने में कहा जाए तो देश के प्रत्येक किशान की आजादी का फैसला है, उन्हने कहा कि जब से देश आजाद हुआ किसानों को समृद्ध बनाने की बात 50 साल राज करने वाली कांग्रेस ने की लेकिन कभी किसानों के लिए सही कदम नही उठाया उंन्होने कहा कि यह बिल किसानों को उनके अधिकार प्रदान करता है कि वो अपने उत्पाद को अपने अनुसार बेच सके  साथ ही यह बिल किसानों के भविष्य के लिए ऐतिहासिक व महत्वपूर्ण साबित होगा, उंन्होने कहा कि इस बिल का विरोध वो लोग कर रहे है जिन्होंने किसानों को अपने शासन व सरकार में कभी भी  समृद्ध करने के बारे में न सोचा ना  ही किसानों भविष्य व उनके उद्धार के लिए कोई उपाय किये।
आजादी के इतने सालों  में योजना बनाई आज दर्द केवल उनको है जो किसानों की लाचारी का फायदा उठाकर अपने घर भर रहे थे।  प्रेस वार्ता में अध्यक्ष सुनील गोयल, भाजपा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य मुन्नालाल मिश्रा ,भाजपा नेता धर्मवीर गुसाई, नगर उपाध्यक्ष पंकज भाटिया ,भाबर महामंत्री गौरव जोशी आदि मौजूद थे।

शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी