सिंचाई विभाग एवं जलसंस्थान की आपसी खींचतान लोगों पर पड़ रही भारी

कोटद्वार। विधानसभा कोटद्वार के अंतर्गत लालपानी क्षेत्र में ट्यूबवैल की मोटर को फुंके हुए एक सप्ताह से अधिक समय हो गया है, लेकिन सिंचाई विभाग के द्वारा अभी तक फुंकी मोटर को ठीक करने की जहमत तक नहीं उठायी गयी है, लगता है कि सिंचाई विभाग एवं जलसंस्थान की आपसी खींचतान लोगों पर भारी पड़ रही है। पानी की किल्लत होने से ग्रामीण पीने के पानी के लिए तरस रहे हैं, हालांकि जल संस्थान के द्वारा दिन में एक बार टैंकर के माध्यम से पानी की आपूर्ति की जा रही है, लेकिन टैंकर लोगों की जरूरतों को पूरा नहीं कर पा रहा है। गौरतलब है कि विगत एक सप्ताह पहले लालपानी स्थित टयूबवैल की मोटर फुंक जाने से लालपानी, बिशनपुर, जीतपुर सहित नाथूपुर क्षेत्र पानी की आपूर्ति पूरी तरह से ठप हो गयी है।
पानी की आपूर्ति ठप हो जाने से ग्रामीणों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। घरों में रोजमर्रा के कार्यो के लिए पानी की किल्लत होने से ग्रामीण इधर-उधर से पानी लाने के लिए मजबूर हो रहे है, हालांकि जलसंस्थान के द्वारा लोगों के लिए पानी की टैंकरों की वैकल्पिक व्यवस्था भी की गयी है, लेकिन पानी के टैंकर भी एक बार ही पानी की आपूर्ति कर पा रहा है, जिससे लोगों को पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं मिल पा रहा है। टयूबवैल की मोटर फुंकने के बारे में जल संस्थान के अधिशासी अभियंता एल सी रमोला से बात की गयी तो उनका कहना है कि उक्त ट्यूबवैल जलसंस्थान के अधीन नहीं आता है, कहा कि उक्त ट्यूबवैल सिंचाई विभाग के अधीन आता है, सिंचाई विभाग ही उक्त खराब ट्यूबवैल को ठीक करवायेगा। लेकिन अभी तक सिंचाई विभाग भी फुंकी मोटर को ठीक नहीं करवा पा रहा है। जिससे क्षेत्र में पानी की किल्लत लगातार बढ रही है।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी