उत्तरप्रदेश में सांसद संजय सिंह की गर्जना से बौखलाई योगी सरकार

देहरादून : आम आदमी की पूर्व प्रदेश संगठन मंत्री व रायपुर विधानसभा प्रभारी उमा सिसोदिया ने उत्तरप्रदेश में सांसद संजय सिंह जी पर स्याही फैंकने की घटना को दुर्भाग्य पूर्ण करार देते हुए इसकी घोर निंदा की।

उन्होंने कहा की जिस तरह से उत्तरप्रदेश में कानून और प्रशासन पूरी तरह नाकाम हो चुका है और वो पूरी तरह से सत्ता में बैठी योगी सरकार के हाथ की हठपुतली बन चुका है वह देश के स्वस्थ लोकतंत्र के लिए बिलकुल गलत है।

उन्होंने कहा की सांसद संजय सिंह के साथ योगी सरकार के इशारे पर स्याही फैंकने की जो घटिया हरकत की गयी, आप आदमी पार्टी उत्तराखंड उसकी घोर निंदा करती है.संजय सिंह जी जन प्रतिनिधि है और पीड़ित परिवार से मिलना और पीड़िता के लिए न्याय की आवाज़ उठाना एक जन प्रतिनिधि होने के नाते उनका धर्म है. किन्तु योगी सरकार ने ताना शाही पूर्ण रवैया अपनाते हुए स्याही फैंकने का जो कृत्य करवाया है वो सरासर लोकतंत्र का और उत्तर प्रदेश की जनता का घोर अपमान है।

मीडिया में जारी एक बयान में उन्होंने कहा की जिस तरह से उत्तर प्रदेश सरकार हाथरस की बलात्कार पीड़िता बच्ची को समय पर इलाज कराने में नाकाम रही वो बहुत दुर्भाग्य पूर्ण था और उससे जघन्य अपराध ये था की उस बच्ची की मृत देह को रात के अँधेरे में पेट्रोल डाल के जला दिया गया जो उस बच्ची के साथ दूसरा बलात्कार था।

उन्होंने आगे कहा की चाहे वो उत्तरप्रदेश की योगी सरकार हो या उत्तराखंड की त्रिवेंद्र सरकार, दोनों ही सरकारे पूरी तरह स्त्री विरोधी है. उत्तराखंड की देवभूमि को कलंकित करने वाले बलात्कारी विधायक महेश नेगी को अभी तक भी भाजपा से निष्कासित नहीं किया गया है.इससे” बेटी बचाओ ” का नारा देने वाली भाजपा का दोहरा चरित्र साफ दिखाई देता है।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी