उत्तराखंड आ रहे हैं तो एक बार यह ख़बर जरूर पढ़ लें

उत्तराखंड की सीमा खुलने को लेकर अभी कुछ स्पष्ट आदेश नहीं आए है। ऐसे में उत्तराखंड में आने वाले लोग उभयसंकट में हैं। हालांकि उत्तराखंड की सीमा से जनपद में एंट्री के लिए ई-पास और उत्तराखंड का आइडी कार्ड भी मान्य किया गया है। इन दोनों दस्तावेज़ के आधार पर ही बाहर से आने वाले लोगों को सीमा में एंट्री दी जा रही है। केंद्रीय गृह सचिव का कथित पत्र सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद से लोग उत्तराखंड की सीमा खुलने के भ्रम में हैं। जबकि पुलिस व प्रशासन अभी तक इस तरह के किसी भी आदेश से इंकार कर रही हैं।

आपको बता दें, बीते कई दिनों से एक पत्र सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है, जिसे केंद्रीय गृह सचिव का आदेश बताया जा रहा है। पत्र के अनुसार राज्य के भीतर या बाहर कहीं भी जाने या आने के लिए किसी भी तरह के ई-परमिट का नियम बनाना गलत है। ऐसे में देश के भीतर कोई भी व्यक्ति किसी भी राज्य में आ-जा सकता है। कई सोशल मीडिया समूहों में घूम रहे पत्र के जरिए लोगों में यह भ्रम तेजी से फैल रहा है।

जबकि अभी तक शासन से इस संबंध में कोई भी गाइडलाइन्स जारी नहीं की गई है। ऐसे में उत्तराखंड का प्रवेश द्वार कहे जाने वाले ऊधम सिंह नगर जिले की सीमाओं पर लोगों की संख्या पहले से अधिक ही गई है। जिले में रामपुर बार्डर पर तैनात एसआई सतेंद्र सिंह बुटोला ने बताया कि कई लोग इस पत्र का प्रिंट आउट भी निकाल कर ला रहे हैं। जिसके आधार पर प्रवेश की मांग की जा रही है। जबकि अभी तक ई-पास व उत्तराखंड के किसी भी स्थान का निवासी होने का प्रमाण दिखाने के बाद ही प्रवेश दिया जा रहा है। रुद्रपुर के उपजिलाधिकारी विशाल मिश्रा ने भी इस संबंध में शासन से किसी नए दिशा निर्देश मिलने से इंकार किया है।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी