हरिद्वार : एसआईटी जाँच में पकड़े गए फर्जी प्रमाणपत्रधारी शिक्षकों पर विभागीय कार्यवाही के लिए भेजा गया पत्र

0 0
Read Time:2 Minute, 48 Second

हरिद्वार : जनपद में फर्जी प्रमाण पत्र, अंक पत्र व पैन कार्ड लगाकर नौकरी करने वाले फर्जी शिक्षकों की संख्या जांच दर जांच बढ़ती जा रही है। वहीं इसी क्रम में आज एसआईटी जांच में दो और शिक्षकों के प्रमाणपत्र फर्जी मिले हैं। एसआईटी ने इन शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई के लिए विभागीय अधिकारियों को लिखा है। वहीं, विभागीय अधिकारियों ने दोनों शिक्षकों को 21 दिन में अपना पक्ष रखने के लिए कहा है। दोनों शिक्षकों की विभागीय जांच संबंधित ब्लॉक के उप शिक्षाधिकारियों को दी गई है। एसआईटी जांच में जनपद में करीब दो दर्जन से अधिक शिक्षकों के प्रमाणपत्र फर्जी मिले हैं। इन शिक्षकों के खिलाफ विभाग कार्रवाई कर चुका है। इसके बाद इन शिक्षकों ने कोर्ट में शरण ली। कोर्ट में मामले विचाराधीन है। अब जिले में दो और फर्जी शिक्षक पकड़ में आए हैं। इनमें से एक लक्सर तो दूसरा खानपुर ब्लॉक में तैनात है।

एसआईटी की जांच में सामने आया है कि दोनों शिक्षकों ने अन्य किसी व्यक्ति के प्रमाणपत्रों में कूटरचना कर नौकरी हासिल की। एसआईटी की ओर से दोनों शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई के लिए विभागीय अधिकारियों को लिखा गया है। इसके बाद विभाग ने दोनों शिक्षकों को 21 दिन में अपने-अपने ब्लॉक के उप शिक्षाधिकारी के सामने उपस्थित होकर पक्ष रखने के आदेश दिए हैं। वहीं, जिला शिक्षाधिकारी (बेसिक) ने संबंधित उप शिक्षाधिकारियों से 25 दिन में रिपोर्ट मांगी है। जिला शिक्षाधिकारी (बेसिक) ब्रह्मपाल सिंह सैनी ने बताया कि रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है की बर्खास्त व निलंबित शिक्षकों के विरुद्ध चल रही जांच के आंकड़ों पर नजर डालें तो यह संख्या सौ के आसपास पहुंच चुकी है। यह सिर्फ उन शिक्षकों की तादाद है जिनके विरुद्ध विभाग को शिकायतें मिलीं हैं। यदि विभाग अपने स्तर से जांच कराए तो संख्या और बढ़ सकती है।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Read also x