पूर्व मंत्री कल से करेगें टैक्स के विरोध में जनजागरूकता अभियान की शुरूआत

कोटद्वार। प्रदेश सरकार के दबाव में नगर निगम प्रशासन के माध्यम से कोटद्वार भाबर में स्थित व्यावसायिक भवनों एवं भूखंडों पर टैक्स लगाये जाने के फरमान के बाद ग्रामीणों ने पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी से उनके आवास पर मुलाकात करते हुए प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ जन आंदोलन छेड़ने की अपील की है।
पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी के आवास में पहुंचे ग्रामीणों ने कहा कि वर्तमान में कोरोना संकट काल में ग्रामीणों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, संकट की घड़ी में कई लोगों की नौकरियां भी छूट गयी है, व्यापार भी चौपट्ट हो गया है, ऐसी परिस्थिति में अब वे सरकार को टैक्स देने में समर्थ नहीं है। पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी ने ग्रामीणों से अपील करते हुए कहा कि कोटद्वार भाबर की समस्त जनता को टैक्स के विरोध में नगर आयुक्त के नाम से व्यक्तिगत लिखित आपत्ति दर्ज करवानी अनिवार्य है, ताकि अधिक से अधिक संख्या में लोगों के द्वारा टैक्स के विरोध में आपत्ति दर्ज हो सके। जिससे टैक्स लगाये जाने के आदेश को निरस्त करवाया जा सके। उन्होंने प्रदेश सरकार पर की जनविरोधी नीतियों पर निशाना साधते हुए कहा कि कोरोना काल में व्यापारिक प्रतिष्ठान एवं गरीब लोग सरकार से आर्थिक पैकेज की उम्मीद रखे हुए थे, लेकिन मुख्यमंत्री ने अगले दस साल तक टैक्स न लगाये जाने की अपनी ही घोषणा को वापिस लेते हुए कोटद्वार भाबर की जनता के ऊपर टैक्स लगाने का फरमान जारी कर जनता से वादा खिलाफी की है। पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी ने कहा कि टैक्स के विरोध में वे मंगलवार से स्थानीय झंडाचौक से एक जनजागरूकता अभियान की शुरूआत की जा रही है, जिसमें लोगों से हस्ताक्षर अभियान एवं आपत्ति दर्ज करने के बारे में बताया जायेगा। इसके अलावा भी प्रत्येक वार्ड में बैठकों के माध्यम से लोगों को जागरूक करने का भरसक प्रयास किया जायेगा।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी