पूर्व मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी ने किया बड़ा ऐलान, 2020 में कांग्रेस के सत्ता में आते ही ये होंगे पहले काम…….

कोटद्वार। प्रदेश के पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी एवं नगर निगम की महापौर श्रीमती हेमलता नेगी ने प्रदेश सरकार के द्वारा व्यावसायिक प्रतिष्ठानों एवं भूखंडों पर टैक्स लगाये जाने का विरोध कर जनजागरण अभियान चलाते हुए लोगों से अधिक से अधिक संख्या में टैक्स के विरोध में आपत्ति दर्ज करने की अपील की है। पूर्व काबीना मंत्री ने ऐलान करते हुए कहा कि यदि प्रदेश में सत्तासीन भाजपा सरकार विकास प्राधिकरण सहित लोगों पर लगाये जाने वाले टैक्सों को समाप्त नहीं करती तो आगामी 2022 में कांग्रेस के सत्ता में आते ही जिला विकास प्राधिकरण सहित लोगों पर लगने वाले समस्त प्रकार के टैक्सों को समाप्त कर दिया जायेगा। किशनपुरी में व्यापारी सोहन लाल धूलिया की अध्यक्षता में आयोजित जनजागरूकता कार्यक्रम में प्रदेश के पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी एवं महापौर श्रीमती हेमलता नेगी ने कहा कि प्रदेश सरकार ने कोटद्वार भाबर के लोगों के व्यापारिक प्रतिष्ठानों सहित भूखंडों पर टैक्स लगाये जाने को लेकर विज्ञप्ति जारी कर दी है, कहा कि उक्त आदेश को निरस्त करवाने के लिए लोगों को व्यक्तिगत रूप से नगर निगम कार्यालय में आगामी 15 नवम्बर 2020 तक लिखित आपत्ति दर्ज करवाया जाना अनिवार्य है, यदि निर्धारित समय में आपित्तियां दर्ज नहीं करवायी जायेगी तो प्रदेश सरकार के द्वारा लोगों पर अनावश्यक व्यावसायिक टैक्स थोप दिया जायेगा। पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी ने ऐलान करते हुए कहा कि अभी तो उनके द्वारा प्रदेश सरकार से टैक्स वसूली को वापिस लिये जाने की मांग की जा रही है, लेकिन प्रदेश सरकार के द्वारा टैक्स वसूली के आदेश को वापिस नहीं लिया गया तो आगामी 2022 में कांग्रेस सरकार के सत्ता में आते ही विकास प्राधिकरण सहित लोगों पर लगने वाले समस्त टैक्सों को समाप्त कर दिया जायेगा। कहा कि कांग्रेस सरकार किसी भी हालत में लोगों पर किसी भी प्रकार के टैक्स के पक्ष में नहीं है। व्यापारी सोहन लाल धूलिया ने भी प्रदेश सरकार के द्वारा टैक्स लिये जाने के निर्णय की घोर आलोचना करते हुए कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री ने नगर निगम में सम्मिलित नये ग्राम सभाओं से अगले दस सालों तक टैक्स न लिये जाने की घोषणा की थी, लेकिन मुख्यमंंत्री के द्वारा अपनी ही घोषणा को वापिस लिया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। कलालघाटी में भी पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी एवं महापौर श्रीमती हेमलता नेगी ने जनजागरूकता अभियान चलाया गया। इस मौके पर सोहन लाल धूलिया, राकेश मोहन धूलिया, विनोद पाल, डा़ प्यारेलाल कंडवाल, राजमोहन शुक्ला, विनोद कुमार धीरेन्द्र गुंसाई, अंशू पांडे, विनोद रावत, सच्चिदानंद डबराल, बुद्घिबल्लभ, सुबोध केष्टवाल, आशाराम धूलिया, देशबंधु कुकरेती, विमल सिंह, कमल बलूनी, योगेश कुमार, अंजना सती, प्रेम सिंह रावत, सरस्ती देवी, पार्वती देवी, शोभा भंडारी, जय कृष्ण आर्य, ओम प्रकाश, दिवाकर नेगी, कीरत सिंह नेगी, हयात सिंह मेहरा, कृष्ण चंद्र खंतवाल सहित कई व्यापारी मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन कार्यकारी अध्यक्ष महावीर सिंह रावत ने किया।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी