भाजपा के काले कारनामों के खिलाफ कांग्रेस ने बोला हल्ला, सीएम व क्षेत्रीय विधायक का फूंका पुतला

लोक संहिता प्रतिनिधि
कोटद्वार। जिला कांग्रेस कमेटी के द्वारा प्रदेश सरकार के द्वारा सम्पति कर लगाये जाने, कोटद्वार भाबर की जनता पर विकास प्राधिकरण थोपे जाने, टैक्स लगाये जाने को लेकर भाजपा के द्वारा सम्पति कर को लेकर लोगों को भ्रमित करने, ट्रेचिंग ग्राउंड के लिए भूमि उपलब्ध न करवाये जाने सहित विभिन्न मुद्दों को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक का पुतला दहन किया। गढ़वाल टाकीज स्थित कांग्रेस कार्यालय से कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने झंडाचौक होते हुए तहसील से वापिस फिर झंडाचौक तक पुतले के साथ प्रदर्शन किया। तत्पश्चात पुतले को आग के हवाले कर दिया गया।
स्थानीय झंडाचौक में पुतला दहन करते हुए वक्ताओं ने कहा कि वर्तमान में प्रदेश में सत्तासीन भाजपा सरकार के चार साल के कार्यकाल में कोटद्वार विधानसभा को गर्त में धकेल दिया है, विकास का एक भी काम न होने से कोटद्वार को विकास के क्षेत्र में दस साल पीटे धकेल दिया है, इसके अलावा कोटद्वार भाबर की जनता पर जबरदस्ती नगर निगम थोपते हुए लोगों के जेबों पर डाका डालने के लिए जिला विकास प्राधिकरण भी थोप दिया है, कहा कि अब प्रदेश सरकार ने सम्पति कर लगाने की भी अधिसूचना जारी कर दी है, जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है। कहा कि सम्पति कर के विरोध में आपत्ति दर्ज करवाने को लेकर प्रदेश के पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी एवं नगर निगम की महापौर के द्वारा जनता के बीच जाकर जागरूकता अभियान भी चलाया गया, लेकिन भाजपा के लोगों के द्वारा बोर्ड बैठक के प्रस्ताव को झूठ के रूप में प्रचारित कर लोगों को गुमराह करने का कुत्सित प्रयास किया गया है। वक्ताओं ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार एवं क्षेत्रीय विधायक एवं नगर निगम मे चुने हुए भाजपा के पार्षद कतई भी कोटद्वार के विकास के पक्षधर नहीं रहे है, कहा कि कोटद्वार भाबर की विकराल रूप धारण कर रही समस्याओं को लेकर महापौर लगातार आंदोलन कर रही है, लेकिन भारतीय जनता पार्टी के पार्षदों ने प्रदेश सरकार को ट्रैचिंग ग्राउंड के लिए भूमि दिये जाने, आवारा पशुओ की समस्याओं के निदान करने, नगर निगम में सफाई कर्मचारियों के वेतन वृद्घि, सहित अधिकारियों एवं कर्मचारियों की संख्या को बढाने के लिए न तो कोई पहल की है, और न ही प्रदेश सरकार को इस प्रकार का पत्र ही भेजा है, उल्टा कोटद्वार जनहित में किये जा रहे कार्यो को दुष्प्रचारित कर जनता को गुमराह करने में लगे हुए है, कहा कि विकास विरोधी मानसिकता के लोगों को अब जनता अच्छी तरह से पहचान चुकी है, कहा कि कांग्रेस पार्टी किसी भी कीमत पर नगरवासियों को टैक्स नहीं लगने देगी, जिसके लिए महापौर ने अपनी दृढ इच्छा शक्ति का परिचय भी दिया है, कहा कि अब आगामी नगर निगम की होने वाली बोर्ड बैठक में सम्पति कर के विरोध में प्रस्ताव भी लाया जायेगा। वक्ताओं ने कहा कि कोटद्वार विधानसभा के समग्र विकास के लिए पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में तत्कालीन काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी के द्वारा वित्त सहित स्वीकृत विकास कार्यो जिसमें लालढांग चिल्लरखाल मोटर मार्ग, कण्वाश्रम का समग्र विकास, केन्द्रीय विद्यालय, मेडिकल कालेज, मोटर नगर सहित दर्जनों विकास कार्यो को ठंडे बस्ते में डाल दिया है, कहा कि उक्त विकास कार्यो को लेकर कांग्रेस के द्वारा आंदोलन को और तेज कर दिया जायेगा। कहा कि अब भाजपा के पास विकास कार्यो को गिनाने के लिए कुछ भी नहीं है, इसीलिए बगैर सिर पैर की बात कर लोगों को गुमराह करने का प्रयास कर रहे है। कहा कि कांग्रेस पार्टी भारतीय जनता पार्टी के मुख्यमत्री, मंत्रियों के भ्रष्टाचार के काले कारनामों को जनता के बीच ले जायेगी। कहा कि आगामी 2022 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के सत्ता में आते ही विकास प्राधिकरण, सम्पति कर सहित काले कानूनों को समाप्त कर जनता को राहत दी जायेगी। इस मौके पर जिलाध्यक्ष डा़ चन्द्रमोहन खर्कवाल, महानगर अध्यक्ष संजय मित्तल, पूर्व राज्य मंत्री सुनीता बिष्ट,विजय नारायण सिंह, धीरेन्द्र सिंह बिष्ट, दिनेश रावत, कृष्णा बहुगुणा, पूजा त्यागी, विनीता भारती, विजय रावत, भाष्कर बडथ्वाल, उपेन्द्र ंिसह नेगी, मुन्नी देवी, उषा देवी, मान सिंह राजपूत, पूर्व प्रमुख सुरेश असवाल, प्रदीप अग्रवाल, आलम सिंह रावत, केएस चौहान, जीवन कोली, सूर्यमणि, हिमांशु बहुखंडी, राम चन्द्र सिंह रावत, सोबन सिंह नेगी, धीरज सिंह रावत, देवेन्द्र सिंह नेगी, राजेन्द्र सिंह गुसांई, चन्द्रमोहन सिंह रावत, नरेन्द्र सिंह नेगी, भोपाल सिंह अधिकारी, महावीर सिंह रावत, कृष्ण चन्द्र खंतवाल, पार्षद अमित नेगी, हरीश नेगी, अनिल रावत, सूरज प्रसाद कांति, नईम अहमद, पुष्कर सिंह, बलवीर सिंह रावत, विनोद नेगी, रूपेन्द्र सिंह, जावेद अहमद, योगेश डोगरा, सुमित डोगरा, दिलवर सिंह रावत, प्रदीप नेगी, पवन रावत सहित सैकड़ो की संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी