गढ़ रत्न नरेंद्र सिंह नेगी के गीतों का गुलदस्ता

0 0
Read Time:1 Minute, 22 Second

उत्तराखंड के लोकगायक श्री नरेन्द्र सिंह नेगी को गढ़रत्न की लोकउपाधी से विभूषित किया गया है। नरेन्द्र सिंह नेगी जी सम्पूर्ण मध्य हिमालय क्षेत्र मुख्यतः गढ़वाल के अप्रतिम स्वरकार और गायक है। नेगी जी के गीत दशकों से हिमालयी जनमानस का मनोरंजन करने के साथ ही उसके मानस को भी झकझोरने का काम कर रहे हैं।

आपको बता दें कि, केंद्रीय विश्वविद्यालय श्रीनगर गढ़वाल के पीएचडी के छात्र दीपक बिजल्वाण ने गढ़वाल के साहित्य को आगे बढ़ाने लिए लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी जी के 40 गीतों के संग्रह को अंग्रेजी में अनुवाद किया है। इसे अब विश्व भर में गढ़ रत्न नरेंद्र नेगी के गीतों के बारे में लोग जान सकेंगे। दीपक विजल्वाण ने नरेन्द्र सिंह नेगी जी के जनसंघर्ष, प्रेम, पर्यावरण चेतना सहित अन्य जनसरोकारों के गीतों का अंग्रेजी में अनुवाद कर उनके प्रसंशकों को एक यादगार तोहफा भेंट की है।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Read also x