केन्द्र सरकार की ना के बाद अब राज्य सरकार बनायेगी कोटद्वार में मेडिकल कॉलेज

केन्द्र सरकार की ना के बाद अब राज्य सरकार बनायेगी कोटद्वार में मेडिकल कॉलेज
0 0
Read Time:2 Minute, 27 Second

कोटद्वार। राजकीय बेस चिकित्सालय के प्रभारी अधीक्षक के कार्यालय में प्रेस को संबोधित करते हुए काबीना मंत्री ने बताया कि कोटद्वार में मेडिकल कॉलेज खोले जाने को लेकर वह निरंतर कार्य कर रहे है परन्तु केन्द्र सरकार की योजना के अनुसार जिले में एक ही मेडिकल कॉलेज हो सकता है। पौड़ी जिले में पहले ही श्रीनगर में एक मेडिकल कॉलेज खुला हुआ है। जिस कारण कोटद्वार विधानसभा में मेडिकल कॉलेज योजना के मानक पूरे नहीं कर पाया। बताया कि प्रदेश सरकार पर वित्तीय भार कम करने के लिए कोटद्वार में ईएसआई से मेडिकल कॉलेज बनाने की कोशिश की थी, लेकिन मेडिकल कॉलेज नहीं बन पाया। इस ओर प्रदेश सरकार ने निर्णय लिया है कि कोटद्वार में प्रदेश सरकार मेडिकल कॉलेज का निर्माण करेगी। क्योकि इससे पूर्व भी राज्य सरकार ने देहरादून, हल्द्वानी, श्रीनगर में अपने संसाधनों से मेडिकल कॉलेज बनाये हैं। उन्होंने कहा कि नई गाइड लाइन के अनुसार मेडिकल कॉलेज के लिए 550 बैड की आवश्यकता है, जिसमें से 300 बैड का बेस अस्पताल पहले से तैयार हो चुका है। अब मेडिकल कॉलेज की शुरूआत के लिए 250 बैड की आवश्यकता है। जिसमें एकेडमिक ब्लॉक की प्रथम वर्ष में बैड से शुरूआत हो सकती है। उन्होने कहा कि मेडिकल कॉलेज में शीघ्र ही पदो पर सृजन किया जायेगा, साथ ही प्रधानाचार्य की तैनाती भी की जायेगी। इस मौके पर बेस अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक डॉ. वीसी काला, उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा, सीपी नैथानी, कमलेश कोटनाला, विकास माहेश्वरी, पंकज भाटिया, पूनम खंतवाल आदि मौजूद थे।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

admin

Related Posts

Read also x