यूपी में एचएसआरपी के बिना वाहनों के स्वस्थता की जांच नहीं होगी

लखनऊ। दिसम्बर माह से हाई सिक्योरिटी रजिस्टे्रशन प्लेट (एचएसआरपी) के बिना वाहनों की फिटनेस हो या कोई अन्य जरूरी कार्य नहीं होंगे। अब जिन वाहनों में एचएसआरपी लगी होगी या इसके लिए आवेदन किया हो तो उसकी रसीद जैसे प्रमाण देने होंगे। इसके बाद ही उनके कार्य को किया जायेगा। बिना इसके अब वाहन के स्वस्थता प्रमाण पत्र जारी नहीं होंगे।
सरकार ने अभी वाहन स्वामी पर एचएसआरपी को लेकर किसी तरह का चालान या जुर्माने की व्यवस्था नहीं की गई लेकिन उक्त प्लेट सभी वाहनों के लिए अनिवार्य कर दिया है। लखनऊ के ट्रांसपोर्टनगर और देवा रोड दोनों कार्यालयों समेत पूरे प्रदेश में इस व्यवस्था के तहत ही कार्य होंगे। अपर परिवहन आयुक्त ने कहा कि एक अप्रैल, 2019 से पहले पंजीकृत हुए सभी प्रकार के वाहन इसके दायरे में आएंगे। वहीं व्यवसायिक वाहनों के स्वामियों को नियत तिथि तक एचएसआरपी लगवा लेनी होगी। चौपहिया अथवा भारी वाहनों में आगे, पीछे और विंड स्क्रीन पर इसे लगवाया जाएगा। अगर किसी वाहन स्वामी ने इसके लिए आवेदन किया है तो उसे एचएसआरपी की रसीद पेश करनी होगी तभी उसके वाहन की स्वस्थता की जांच होगी।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी