उत्तर प्रदेश : सुदामा जैसा ब्राह्मण आज परशुराम का रूप धारण करने पर मज़बूर

फतेहपुर: उत्तर प्रदेश में योगी सरकार की तानाशाही साफ नजर आ रही है जहां पुलिस प्रशासन द्वारा निरंतर ब्राह्मणों की हत्याएं हो रही हैं| जिस प्रकार से त्रेता युग में ऋषियों और ब्राह्मणों को दैत्य सताते थे वही दशा आज कलयुग में भी भारतीय जनता पार्टी की उपस्थिति में दिखाई दे रही है| उत्तर प्रदेश में ब्राह्मण हत्या को लेकर राष्ट्रीय ब्राम्हण महासंगठन द्वारा फतेहपुर जनपद के जिलाधिकारी संजीव सिंह के माध्यम से केंद्र सरकार को विज्ञप्ति सौंपी गई| संगठन के जिला अध्यक्ष अनिल त्रिपाठी ने कहा कि निरंतर ब्राह्मणों की हत्याएं हो रही हैं जिससे लोकतंत्र की हत्या की जा रही है| आने वाले समय में इसका भारी नुकसान सरकार को प्राप्त करना पड़ सकता है|

उन्होंने बताया कि ब्राह्मण जाति को किसी प्रकार का कोई आरक्षण भी प्राप्त नहीं है भले ही वह झोपड़ी में रहने वाला ब्राह्मण क्यों ना हो| फिर भी ब्राह्मण शांत है तो उसे अनेक प्रकार से दबाव बनाया जाता है एवं हत्या कर दी जाती हैं |परंतु सरकार इस पर ध्यान नहीं देती कि ऐसे ही ब्राह्मण जो पीड़ा को सहते हुए अंत में परशुराम का रूप धारण कर लेते हैं| ब्राह्मण के ऐसा करने पर फिर उसके पीछे प्रशासन लगा दिया जाता है और उसकी हत्या करा दी जाती है|

संगठन के सभी सदस्यों ने केंद्र सरकार से अपील की कि कम से कम सरकार को इस पर विशेष ध्यान देना चाहिए कि एक सीधा साधा सुदामा जैसा ब्राह्मण आज परशुराम का रूप क्यों धारण कर रहा है| इसके पीछे जरूर कोई ना कोई गंभीर कारण रहा होगा| इन सभी मामलों को लेकर केंद्र सरकार के लिए ज्ञापन देते हुए सदस्यों ने कहा कि अगर इस पर तत्काल सुधार नहीं होता तो इसका असर समाज पर भी विपरीत पड़ेगा|

इस मौके पर संगठन के जिला अध्यक्ष अनिल त्रिपाठी अंकित दिक्षित अंकित त्रिपाठी आशुतोष तिवारी प्रेमसागर मिश्रा पुनीत शुक्ला रचित दिक्षित एवं कमलनयन बाजपेई ने केंद्र सरकार पर तीखे बयान करते हुए न्याय की गुहार लगाई|


शेयर करें

सम्बंधित खबरें

टीका - टिप्पणी

Swipe to unlock!
Unlocked