खस्ताहाल सड़कों से शिवभक्तो को कावड़ ले जाने में हो रही परेशानी

नजीबाबाद। महाशिवरात्रि का त्योहार जैसे-जैसे निकट आ रहा है, भोले के भक्तों के जत्थे हरिद्वार मार्ग पर बढ़ने लगे हैं। बमबम भोले की गूंज और बड़ी-बड़ी कांवड़ जहां लोगों को आकर्षित कर रही हैं, वहीं दूर दराज से गंगा जल लेकर लौट रहे शिव भक्तों के लिए पथरीले रास्ते परेशानी के कारण बन रहे हैं।
महाशिव रात्रि के नजदीक आते ही सड़कों पर भोले की बम का उद्घघोष और बमबम भोले की गूंज सुनाई देने लगी है। बड़ी -बड़ी कांवड़ लोगों के आकर्षण का केन्द्र बनी हुई है। दूर-दूर से आने वाले शिव भक्त हरिद्वार कांवड़ मेले में पहुंचकर कांवड़ लेकर मोटा महादेव मार्ग से होकर अपने गंतव्य तक पहुंचने में रास्ते की कठिनाइयों का सामना करते हुए आगे बढ़ते जा रहे हैं, लेकिन पैदल कांवड़ यात्रा कर रहे शिव भक्तों के लिए भागूवाला बाइपास मार्ग से लेकर मोटा महादेव तक बदहाल सड़क परेशानी का सबब बन रही है। जहां-तहां मोटे मोटे पत्थर पड़े हुए हैं। सड़क उखड़ चुकी है जगह जगह गड्ढे बने हुए हैं। पैदल चलने वाले शिव भक्तों को इस टूटी फूटी सड़क से होकर गुजरना पड़ रहा है। जबसे भागू वाला मोटा महादेव बाई पास मार्ग बना है तभी से भोले के शिव भक्तों का यह पसंदीदा मार्ग रहा है चाहे शिवरात्रि पर्व हो या सावन के महीने में आने वाले कांवड़िए इसी मार्ग से होकर गुजरते हैं। लम्बी यात्रा कंधों पर कांवड़ का भार, पैरों में पड़े छाले, धीमी गति, बेहाल सड़क पर और कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी