कर्जदार पिता ने साहूकार को सौंपी नवजात बच्ची

बिजनौर। कर्ज के बोझ तले दबे पिता ने अपनी नवजात बच्ची को साहूकार को सौंप दिया। साहूकार ने उस बच्ची को अवैध रूप से दिल्ली के किसी दंपत्ति को दे दिया। जब यह बात मातृ मंडल सेवा भारती की जिलाध्यक्ष को पता चली तो उन्होंने अथक प्रयास कर बच्ची को वापस मां का आंचल दिला दिया! इतना ही नहीं बच्ची के पालन पोषण से लेकर शिक्षा दीक्षा तक की समस्त जिम्मेदारियां खुद उठाने की घोषणा की! मां के पास पहुंची बच्ची का नामकरण संस्कार कराते हुए उसे कल्याणी नाम दिया गया!
शहर के बैराज मार्ग स्थित काशीराम कॉलोनी निवासी महिला ने बसंत पंचमी पर एक स्वस्थ कन्या को जन्म दिया था! बताया जाता है कि महिला का परिवार बेहद गरीबी के दौर से गुजर रहा है! उसके पति पर कॉलोनी में ही रहकर साहूकारी करने वाली एक महिला का कर्जा था! यह साहूकार महिला पिछले काफी समय से बच्ची के पिता पर रुपए लौटाने का दबाव बनाए हुए थी! काफी प्रयास के बावजूद जब नवजात बच्ची का पिता कर्ज को नहीं लौटा पाया तो उस महिला साहूकार ने कर्जा माफ करने के साथ ही बच्ची के पिता को लालच देकर एक दिन की बच्ची को ले लिया और उसे अवैध रूप से दिल्ली के एक दंपत्ति को सौंप दिया! नवजात बच्ची को गरीबी और कर्ज के कारण दिल्ली में किसी अंजान व्यक्ति को अवैध रूप से दिए जाने का मामला जब मातृ मंडल सेवा भारती की जिला अध्यक्ष शोभा शर्मा के संज्ञान में आया तो बच्ची के हित को देखते हुए उन्होंने जनपद के कुछ पुलिस अधिकारियों के संज्ञान में मामले को डाला तथा संगठन पदाधिकारी भारती सिंह, हिमानी गौड़, प्रेमा श्रीवास्तव, लता शेखर व गीता अग्रवाल आदि के साथ कांशीराम कालोनी में पहुंच गई! उन्होंने न लालची पिता की जमकर क्लास लगाई, बल्कि उनसे बच्ची लेकर दिल्ली के व्यक्ति को देने वाली महिला साहूकार को भी आड़े हाथों लिया! पिता व साहूकार के साथ ही बच्चे को अवैध रूप से लेने वालो को भी जेल भिजवाने की चेतावनी दी! शोभा शर्मा के दबाव में साहूकार ने बच्ची को दिल्ली से वापस मंगाकर वापस उसकी मां को सौंप दिया! शुक्रवार को सेवा भारती मातृ मंडल की ओर से काशीराम कॉलोनी के पार्क में नामकरण संस्कार कार्यक्रम का आयोजन किया गया! इसमें हवन यज्ञ कराने के बाद विधि विधान से बच्ची को कल्याणी नाम दिया गया! इतना ही नहीं शोभा शर्मा ने घोषणा की कि बच्ची के दूध से लेकर कपड़े, लालन पोषण, शिक्षा दीक्षा और शादी तक के खर्च की जिम्मेदारी उनकी है! अप्रत्यक्ष रूप से बच्ची को गोद लेते हुए उन्होंने उसके माता-पिता को आश्वस्त किया कि यह बच्ची उन पर बोझ नहीं बनेगी! जब तक बच्ची बड़ी होकर अपने पैरों पर ना खड़ी हो जाए, तब तक उसके समस्त खर्चो की व्यवस्था वे खुद करके देंगी ! नामकरण संस्कार कार्यक्रम में जिला अध्यक्ष शोभा शर्मा के साथ हिमानी गौड़, मंगेश शर्मा, शैली शर्मा, भारती सिंह, ममता वर्मा, संजू रानी, लता शेखर, मंजू गोयल, रानी कोशिक, गीता अग्रवाल, अनीता त्यागी, आशु त्यागी व गोरी आदि शामिल रही।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी