मथुरा : जबरन कोविड वार्ड में भर्ती कर खिलाई गईं कोरोना की दवा, हुई मौत

जनपद मथुरा के नयती हॉस्पिटल में इलाज के दौरान लापरवाही के कारण आगरा के व्यक्ति की हुई मौत जिसके बाद परिजनों द्वारा लापरवाही का आरोप लगाया है वही हॉस्पिटल के स्टाफ द्वारा मृतक के परिजनों से बदसलूकी वह अभद्रता कर डाली है।

बता दें कि, जनपद आगरा के कमला नगर के रहने वाले 58 वर्षीय संजय जिंदल को 17 तारीख को गले में तकलीफ होने के कारण मथुरा के नयति हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। जहां हॉस्पिटल प्रबंधन द्वारा उनका कोरोना टेस्ट किया गया, जिसके बाद कोरोना की रिपोर्ट नेगेटिव आई लेकिन अस्पताल प्रशासन द्वारा मनमानी करते हुए संजय जिंदल को कोविड वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया।

परिजनों का आरोप है कि, जब उन्हें कोरोना था ही नही तो फिर उन्हें कोविड वार्ड में क्यो रखा गया। अस्पताल प्रबंधन द्वारा मनमानी करते हुए उन्हें कोविड शिफ्ट करने के बाद कोरोना से संबंधित दवाइयां दी गई, लेकिन लाखों रुपए का बिल बनाकर तैयार कर दिया गया और आज इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

परिजनों का आरोप है कि अस्पताल प्रबंधन द्वारा जबरन मनमानी करते हुए उन्हें कोविड- भर्ती किया गया था जिसमें अस्पताल प्रबंधन द्वारा पूरी लापरवाही बरती गई थी और लापरवाही के कारण उनकी मौत हो गई है इलाज के नाम पर लाखों रुपए का बिल हाथ में थमा दिया गया बिल को लेकर सवाल किए जाने पर अस्पताल स्टाफ द्वारा अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया गया वहीं मृतक के परिजनों के साथ बदसलूकी कर डाली है जिसके बाद से अस्पताल में हंगामा खड़ा हो गया।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी