पुरानी पेंशन बहाली के लिये जारी सँघर्ष होगा तेज़

लोक संहिता प्रतिनिधि
कोटद्वार। रविवार को राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा की प्रदेश कार्यकारिणी की आयोजित बैठक में राज्य के सभी जिला मण्डल व प्रान्तीय पदाधिकारियों ने प्रतिभाग किया। बैठक में समय की मांग को देखते हुए धरातल पर आंदोलन को तेज करने का निर्णय लिया गया। प्रदेश संयोजक मिलिन्द बिष्ट ने विभिन्न मुद्दों पर समस्त जिला पदाधिकारियों के सुझाव आमंत्रित किए। प्रदेश संयोजक मिलिन्द बिष्ट ने कहा कि पुरानी पेंशन का संघर्ष संयुक्त मोर्चा के कार्यक्रमो की बदौलत आज राज्य में प्रत्येक पटल पर चर्चा में आ गया है। बड़े मंचो से सरकार इस विषय पर अपने विचार रख रही है। प्रदेश के 80000 कर्मचारी , शिक्षक व अधिकारी वर्ग को अब इस मांग के लिए सड़को पर आना होगा। चम्पावत जिला अध्यक्ष इंदुवर जोशी ने कहा कि शीघ्र आंदोलन को धरातल पर उतारने की सभी तैयारी पूर्ण कर ली जाएंगी। पौड़ी जिला महासचिव ने जमीनी आंदोलन की लड़ाई के लिए सभी तैयारियां पूर्ण होने की बात कहते हुए प्रत्येक प्रकार के सहयोग का विश्वास दिलाया। नैनीताल जिला अध्यक्ष पंकज बधानी ने बताया कि मोर्चे के प्रति नई पेंशन आच्छादित सदस्यों में काफी उत्साह है। उन्हें विश्वास है कि मोर्चा आशानुरूप कार्य करते हुए इसमे सकारात्मक परिणाम सामने लाएगा। रुद्रप्रयाग से नीलम बिष्ट ने बताया कि मीडिया को एक प्रमुख हथियार बनाने की आवश्यकता है जिसके माध्यम से हम आंदोलन को बल दे सकते हैं। रुद्रप्रयाग से शंकर भट्ट ने बताया कि जिला कार्यकारिणी को मात्र प्रदेश नेतृत्व के आदेशों की प्रतीक्षा है आंदोलन के लिए सभी तैयारी पूर्ण की जा चुकी है। हरिद्वार से डॉ नवीन सैनी ने कहा कि अब आम सदस्यों की सभी प्रकार की व्यस्तताओं के दौर समाप्त हो चुके है। अब एक मजबूत जमीनी कार्यवाही की आवश्यकता महसूस हो रही है। गढ़वाल मंडल महासचिव नरेश भट्ट ने कहा कि जिला रुद्रप्रयाग व चमोली की कार्यकारिणी शीघ्र धरातल पर कार्य करने की योजना बना रही है शीघ्र इस विषय मे प्रदेश कार्यकारिणी को अवगत कराया जाएगा। प्रदेश महिला उपाध्यक्ष योगिता पंत ने सभी जिलों से पदाधिकारियों को धरातलीय कार्यक्रम की आवश्यकता जाहिर करते हुए कहा कि अब संयुक्त मोर्चे के विश्वास को अमली जामा पहनाने का वक्त आ गया है। प्रदेश महासचिव ने बैठक में पदाधिकारियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि शीघ्र धरातल पर मजबूती से कार्यक्रम आयोजित कराए जाएंगे विगत 6 माह से संयुक्त मोर्चा द्वारा जिस प्रकार मुद्दे को चर्चा में बनाए रखा गया है अब उसके लिए जमीन पर लड़ाई लड़ी जाएगी और संयुक्त मोर्चा के हर सदस्य से इस आहुति में अपना योगदान देने की अपील की जाती है। उन्होंने आगामी 1 जनवरी को राष्ट्रव्यापी काला दिवस कार्यक्रम को सफल बनाने की अपील की है। प्रदेश महासचिव ने बताया कि प्रदेश में नई पेंशन आच्छादित कर्मचारियों द्वारा 1 लाख 33 हज़ार पोस्टकार्ड अभी तक पुरानी पेंशन को बहाल कराने के लिए प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री को भेजे जा चुके हैं। बैठक में योगिता पन्त, सीताराम पोखरियाल, डॉ नवीन कुमार सैनी, पूरन फस्र्वाण, छत्रपति पांडे, पंकज बधानी, नीलम बिष्ट, शंकर भट्ट, भवान सिंह नेगी आलोक पांडे आदि मौजूद रहे।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी