राष्ट्रीय बाल पुरस्कार विजेताओं से बात करेंगे पीएम- बच्चे नहीं होंगे इस बार गणतंत्र दिवस परेड का हिस्सा

आज दोपहर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्रीय बाल पुरस्कार विजेताओं के साथ बातचीत करेंगे। यह कार्यक्रम वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संचालित किया जाएगा। 63 सालों में पहली बार ऐंसा होगा जब ये बहादुर बच्चे गणतंत्र दिवस परेड का हिस्सा नहीं होंगे। 1957 से लगातार परेड का हिस्सा रहने वाले राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता बच्चे कोरोना संक्रमण के चलते परेड का हिस्सा नहीं बनेंगे।
ज्ञात हो कि सरकार असाधारण योग्यता और उत्कृष्ट उपलब्धियों वाले बच्चों को यह पुरस्कार प्रदान कर रही है। बाल शक्ति पुरस्कार’ की विभिन्न श्रेणियों के तहत देशभर के 32 आवेदकों को पीएमआरबीपी -2021 के लिए चुना गया। इसमें कला और संस्कृति के क्षेत्र में 7 पुरस्कार दिए गए हैं, नौ पुरस्कार इनोवेशन के लिए दिए गए हैं और पांच शैक्षिक उपलब्धियों के लिए, सात बच्चों को स्पोट्र्स कैटेगरी, तीन बच्चों को बहादुरी के लिए और एक बच्चे को समाज सेवा के क्षेत्र में उनके प्रयासों के लिए सम्मानित किया गया है।
इससे पहले पीएम मोदी ने गणतंत्र दिवस परेड के कार्यक्रमों में शामिल होनेवाले एनसीसी कैडिटों, एनएसएस कार्यकर्ताओं और कलाकारों को संबोधित किया था। उन्होंने कहा कि हमें देश की आजादी के लिए अपना सब कुछ न्योछावर करने का अवसर नहीं मिला। लेकिन निश्चित रूप से हमारे पास देश के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ देने का अवसर है। हम अपने देश के लिए जो कुछ भी अच्छा कर सकते हैं, हमें करना चाहिए ताकि भारत और सशक्त हो।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी