प्रधानमंत्री के द्वारा सीमा पर सैनिकों के साथ दीवाली मनाने पर पूर्व सैनिकों ने जतायी खुशी

कोटद्वार। पूर्व सैनिक सेवा परिषद की बैठक कार्यालय अपर कालावड में संपन्न हुई,सभी पूर्व सैनिकों ने परिषद के सदस्यों ने कहा कि प्रधानमंत्री के सेना के साथ लगातार कई बरसों से दिवाली मनाने पर सैनिक अपने को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। देश की सीमा है तो देश है और तभी राष्ट्र है। संगठन के द्वारा एलओसी में शहीद हुए चार सैनिकों को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई। साथ ही सरहदों पर रियाहसी इलाकों में पाकिस्तानी सेना द्वारा फायरिंग व गिराये गये गोलों की संगठन द्वारा निन्दा की गई हैं,और उसके जबाब में भारतीय सेना द्वारा की गई कार्रवाई से दुश्मन के कई पोस्ट तवा करना,10-15 जवान मार गिराना , कई सैनिक व अम्यूनिशन भण्डारण को क्षति पहुंचाने पर भारतीय सेना की प्रशंसा की गई है, मोदी ने सैनिकों को दिवाली की बधाई दी और मिठाई बांटी, सैनिक व पूर्व सैनिकों में भी उत्साह है साथ ही सेवारत सैनिकों के हौंसले बुलंद होगें। मोदी ने सीमा से अपने देश को आजमाने की कोशिश करने वालों को चेतावनी भी दी गई,जिससे हम आत्मनिर्भर होने की ओर अग्रसर है, दर्शाता है।पूर्व सैनिक मोदी जी को सैल्यूट करते हैं। बैठक में कैप्टन सी पी डोबिरियाल, बलवान सिंह रावत , उमेश चौधरी, सुरेश रावत ,शूरवीर सिंह खेतवाल, गोपाल सिंह नेगी, सतेद्र सिंह रावत,कै० सी पी धूलिया,अनूप बिष्ट, तेजपाल बिष्ट और संस्था के अध्यक्ष गोपाल गोपाल कृष्ण आदि उपस्थित रहे।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी