ऑस्ट्रेलिया की क्लेयर पोलोसाक रचेंगी इतिहास…

कैनबरा। आस्ट्रेलिया की महिला अम्पायर भारत और आस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में खेले जाने वाले टेस्ट मैच में अम्पायरिंग कर एक नये युग की शुरूआत करेगी।
आस्ट्रेलिया और भारत के बीच तीसरे टेस्ट मैच से एक नए चेप्टर की शुरूआत होगी और जिसको शुरू करने जा रही है आस्ट्रेलिया की महिला क्लेयर पोलोसाक। वह तीसरे टेस्ट में अम्पायर की भूमिका में नजर आयेंगी। यह पहली मर्तबा है कि जब कोई महिला पुरूष क्रिकेट टेस्ट मैच में अम्पायर होंगी। ऑस्ट्रेलिया के न्यूसाउथ वेल्स की पोलोसाक मैच में चौथे अंपायर की भूमिका में होंगी। वह इससे पहले मेन्स वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट मैच में अंपायरिंग करने वाली पहली महिला अंपायर बनने की उपलब्धि हासिल कर चुकी हैं। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की सीरीज के तीसरे मैच में दो पूर्व तेज गेंदबाज पॉल रिफेल और पॉल विल्सन मैदानी अंपायर की भूमिका निभाएंगे जबकि ब्रूस ऑक्सेनफोर्ड तीसरे (टेलीविजन) अंपायर होंगे। डेविड बून मैच रेफरी होंगे। टेस्ट मैचों के लिए आईसीसी के नियमों के अनुसार, चौथे अंपायर को घरेलू क्रिकेट बोर्ड द्वारा अपने आईसीसी अंपायरों के इंटरनेशनल पैनल में से नियुक्त किया जाता है। किसी परिस्थिति में मैदानी अंपायर के हटने के बाद तीसरे अंपायर को मैदान में सेवाएं देनी होती हैं जबकि चौथे अंपायर को टेलीविजन अंपायर की भूमिका निभानी होती है।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी