बैंक के बाद अब पोस्ट ऑफिस ने भी बदले नियम, न्यूनतम बैलेंस न रखने पर लगेगा जुर्माना….पढ़े पूरी खबर

नई दिल्ली। पोस्ट ऑफिस में बचत खाता धारकों के लिए अब बैंकों की तरह ही खाते में न्यूनतम बैलेंस रखना अनिवार्य कर दिया है।
केन्द्र सरकार ने बैंकों की तरह ही पोस्ट ऑफिस के खाता धारकों पर न्यूनतम बैलेंस की अनिवार्यता लागू कर दी है। अब 11 दिसम्बर के बाद जिनके बचत खाते पोस्ट ऑफिस में हैं उनको अपने खाते में न्यूनतम बैलेंस 500 रुपए रखना अनिवार्य है। बचत खाते में शेष राशि न होने पर पोस्ट ऑफिस खाता धारक से जुर्माना वसूल करेगा। सरकार के इस फैसले से उन गांव देहात के दिहाड़ी-मजदूरों और गरीब लागों को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है जिनकी बड़ी मुश्किल से रोजी रोटी चलती है। यही नहीं वित्त वर्ष के अंत में जिन लोगों के पोस्ट ऑफिस बचत खातों में 500 रुपए तक जमा नहीं होंगे उनको रखरखाव शुल्के तौर पर 100 रुपए का अतिरिक्त शुल्क भी देना होगा। यही नहीं अगर किसी व्यक्ति के डाक बचत खाते में जीरो बैलेंस है तो उसका खाता स्वत ही बंद हो जायेगा। हालांकि कई बैंकों के मुकाबले डाक घर बचत खाताधारकों के लिए यह राशि कम है इसलिए उनके लिए न्यूनतम बैलेंस रखना थोड़ा आसान हो सकता है, लेकिन उन गरीबों के लिए इतना भी आसान नहीं है रोज की दिहाड़ी से कमाते खाते हैं और कई बार तो दिहाड़ी मजदूरों को कई-कई दिनों तक काम भी नहीं मिल पाता। इसलिए सरकार को ऐसी अनिवार्यता से पहले गांव-देहात के दिहाड़ी मजदूरों की रोजमर्रा की स्थिति पर भी गौर करना होगा।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी