सट्टे में पैसे हारे युवक ने उठाया खौफनाक कदम……….

हैदराबाद। सट्टे में पैसे हारने और उधार लिया हुआ पैसे का दबाव बढ़ने से दुखी व परेशान युवक ने इतना खौफनाक कदम उठाया कि सबके दिल दहल गये। वह क्रिकेट में अपनी सारी जमा पूंजी गंवाकर अपनी मानसिक संतुलन भी खो बैठा और उसने खतरनाक मंजर को अंजाम दे दिया।
सदियों से एक कहावत चली आ रही है कि जुआ किसी का न हुआ। इसी कहावत को चरितार्थ करते हुए सट्टेबाज ने क्रिकेट के खेल में सट्टा लगाकर ऐसा खौफनाक कदम उठाया कि सबके दिल दहल गये। यह युवक अपनी सारी जमा पूंजी जुआ में हारकर इतना हताश-परेशान हुआ कि अपना मानसिक संतुलन भी खो बैठा और इस युवक ने अपनी माता व बहन को भी जहर देकर मार डाला। स्थानीय पुलिस ने बताया कि क्रिकेट सट्टे में पैसे हारने के बाद खस्ता हालत और पैसे देने के दवाब का सामना कर रहे एक 23 वर्षीय व्यक्ति ने अपनी मां और बहन को जहर देकर मार डाला। पुलिस के मुताबिक, शख्स मां के नाम संपत्ति को हासिल करना चाहता था, जिस कारण उसने ये खौफनाक कदम उठाया। हालांकि वह एम-टेक द्वितीय वर्ष का छात्र है, उसने अपनी 22 वर्षीय बहन और 44 वर्षीय मां के भोजन में कीटनाशक मिला दिया। इससे दोनों की अस्पताल में मौत हो गई। युवक एक निजी कंपनी का कर्मचारी है और वह वित्तीय समस्याओं का सामना कर रहा था। बताया गया कि उसने लोन लिया था और अपने परिवार के सदस्यों की जानकारी के बिना सट्टेबाजी में लगभग 25 लाख रुपये का खेल खेला। लड़के पर कुछ उधारकर्ताओं ने उस पर लोन को चुकाने के लिए दबाव डालना शुरू कर दिया, जिसके बाद उसने अपनी मां और बहन को खत्म करके उनकी संपत्तियों से लोन को समाप्त करने की योजना बनाई। योजना के तहत, उसने भोजन में कीटनाशक मिलाया और घर से यह कहकर निकल गया कि वह अपने कार्यस्थल पर जा रहा है और फिर उसने बाद में अपनी मां को फोन किया, जहां उन्होंने उसे स्वास्थ्य स्थिति की जानकारी दी। इसके बाद आरोपी घर गया और अपने रिश्तेदारों की मदद से अपनी मां और बहन को अस्पताल ले गया जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी