अच्छी ख़बर : नवम्बर माह तक भारत में उपलब्ध होगी रूस निर्मित कोरोना वैक्सीन – सूत्र

कोरोना संक्रमण के बढ़ते दुष्प्रभाव देश के लिए चिंता का सबब बने हुए हैं, हरसंभव एहतिहात बरतने के बावजूद कोरोना के मामलों में रिकॉर्ड तोड़ बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। इसी बीच देशवासियों के लिए एक बड़ी ख़बर आई है, प्राप्त जानकारी के अनुसार देश की बड़ी फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डीज लैब ने भारत में रुसी टीके के क्लिनिकल ट्रायल और वितरण के लिए रूसी कंपनी रशियन डायरेक्ट इनवेस्टमेंट फंड (RDIF) से हाथ मिलाया है, इस करार के तहत रूसी कंपनी भारत में डॉ. रेड्डीज लैब को 10 करोड़ टीके उपलब्ध कराएगी। अगर इसका ट्रायल सफल होता है तो इसके भारत में आगामी नवंबर माह तक आने की उम्मीद है। मालूम हो कि, रूस में विगत 11 अगस्त को स्पुतनिक वैक्सीन नाम से दुनिया में पहला कोरोना टीका लॉन्च किया गया ​था, उस समय इस टीके का सिर्फ फेज 1 और फेज 2 का परीक्षण किया गया था। वहीं, इस टीके को लेकर रूस ने दावा किया है कि मानव एडेनोवायरस दोहरी वेक्टर प्लेटफॉर्म के आधार पर रूसी टीका भारत में कोरोना वायरस से बिना किसी नकारात्मक दोष के इस लड़ाई में मदद करेगा।डॉ. रेड्डीज लैब के प्रबन्ध निदेशक जीवी प्रसाद का कहना है कि, रुसी टीके का फेज 1 और फेज 2 का क्लीनिकल ट्रायल सफल रहा है तो अब इसके तीसरे फेज का परीक्षण हम भारत में करेंगे, ताकि ट्रायल के लिए जरूरी मापदंडों व शर्तों को समय रहते पूरा किया जा सके। 

 


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी