भारत और नेपाल के बीच काठमांडु में राजनयिक वार्ता शुरू

भारत और नेपाल के बीच आज यानि कि, सोमवार को काठमांडु में नेपाल के विदेश सचिव शंकर दास बैरागी और भारतीय राजनयिक विनय ख्वात्रा के बीच बातचीत जारी है। वैसे तो इस बैठक की रूप रेखा पहले से ही तैयार है और इसका भारत-नेपाल के बीच जारी किसी भी विवाद से कोई सरोकार नहीं है, लेकिन मौजूदा हालातों के मद्देनज़र इस वार्ता को और ख़ास बना दिया है, इससे पूर्व बीते शनिवार को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर नेपाली प्रधानमंत्री ओली ने पीएम नरेंद्र मोदी को फोन किया था। फ़ोन पर हुई बातचीत के बाद दोनों देशों की ओर संबंधों को लेकर कूटनीतिक भाषा में सकारात्मक बातें कही गई हैं, कहीं न कहीं अब ये कोशिश की जा रही है कि ओली द्वारा मोदी को फोन कॉल करने के राजनीतिक मायने क्या हो सकते हैं?

ग़ौरतलब है कि, ये फोन कॉल ऐसे समय में हुआ है जब बीते कुछ हफ्तों में नेपाल का भारत कि ओर कड़ा रुख रहा है और इस बीच नेपाल की तरफ से कई अमर्यादित निर्णय भी लिए गए हैं। तो क्या यह माना लेना चाहिए कि नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली अब ये लीपापोती इसलिए कर रहे हैं, ताकि भारत को इन बातों में उलझाकर वो अपना चीन प्रोजेक्ट जारी रख सकें या फिर वाकई में नेपाल को अब समझ आ गया है कि जिस भारत से नेपाल का रोटी-बेटी का रिश्ता है उससे बैर रखना हितकारी नहीं है।


शेयर करें

सम्बंधित खबरें

टीका - टिप्पणी

Swipe to unlock!
Unlocked