बॉयकॉट मिर्जापुर 2 पर आया ‘मुन्ना भइया’ का रिएक्शन

बॉलीवुड अभिनेता देवयेंदु शर्मा उर्फ ‘मुन्ना भइया’ ने हाल ही में सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहे बॉयकॉट मिर्जापुर 2 को लेकर अपनी राय रखी है। दरअसल, लोगों की मांग है कि, इस वेब सीरीज का बहिष्कार किया जाए। इसपर देवयेंदु शर्मा कहते हैं कि ये सब चीजें शो की कास्ट और क्रू पर असर नहीं डालती हैं। मुझे इस ट्रेंड से कोई फर्क नहीं पड़ा। लोग नहीं जानते कि बाहर की दुनिया में कितने लोग इस शो के फैन्स हैं। ये सब बंद कर दो, क्योंकि हम सभी जानते हैं कि मिर्जापुर को लोग कितना पसंद करते हैं।

मुन्ना त्रिपाठी कहते हैं कि यह एक बेकार का हैशटैग हो जो ट्रेंड कर रहा है। यह सारे पेड ट्रेंड्स होते हैं, ऐसा मेरा मानना है। बाहर निकलकर मत बोल देना लोगों के सामने, बहुत पड़ेगी तुमका।

ऑनलाइन प्लैटफॉर्म की सबसे पॉप्युलर और फेमस वेबसीरीज में से एक ‘मिर्जापुर’ रही है। अब इसका सेकंड सीजन आने वाला है और हाल में उसका ट्रेलर भी रिलीज कर दिया गया है जिसे काफी पसंद किया जा रहा है। हालांकि मिर्जापुर के सेकंड सीजन का ट्रेलर रिलीज होने के कुछ समय बाद ही Boycott Mirzapur 2 सोशल मीडिया पर ट्रेंड करने लगा। इसका कारण यह था कि सीरीज के लीड ऐक्टर अली फजल (गुड्डू पंडित) और इसके को-प्रड्यूसर फरहान अख्तर ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) का विरोध किया था।

वेब सीरीज में गोविंद ‘गुड्डू’ का रोल अदा करने वाले अली ने टाइम्स नाउ डिजिटल के साथ बातचीत में कहा है कि, ‘हमें तय करना होगा कि हम किस तरफ खड़े हैं। क्या हम किसी ट्रेंड की दया पर टिके हुए हैं? नहीं, मैं कला को उस नजरिए से नहीं देखता। हम केवल एक ऐप की दया पर निर्भर हैं जिससे तय होता है कि कौन हमारा शो देखेगा और कौन नहीं। मतलब यह बहुत नीचे गिर चुका है। मेरा मतलब है कि अगर आप ट्रेंड की ही बात करते हैं तो मैंने कभी किसानों को लिए कोई ट्रेंड नहीं देखा जो पूरे देश में प्रोट्स्ट कर रहे हैं। हालांकि मैं यह भी नहीं कह रहा कि यह जरूरी नहीं है लेकिन कोरोना की खबरें तो अब किसी को जरूरी ही नहीं लग रहीं। अब ये खबरें ट्रेंड में नहीं हैं जबकि मेरे हिसाब से यह सबसे बड़ी समस्या है जिसका हम सामना कर रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि लोग इन सब चीजों से ऊपर उठेंगे।’

बता दें कि, ‘मिर्जापुर-2’ वेब सीरीज 23 अक्टूबर को अमेजन प्राइम पर रिलीज के लिए तैयार है।


शेयर करें

सम्बंधित ख़बरें

टीका - टिप्पणी